bharat-ka-sabse-lamba-rashtriya-rajmarg

भारत के सबसे लम्बे राष्ट्रीय राजमार्ग – TOP 10 LONGEST HIGHWAY

Jump On Query -:

भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग(सड़क) कौन-सा है?

भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग – दुनिया में भारत को सबसे बड़ी सड़क नेटवर्क के लिए जाना जाता है. भारत में 200 से भी ज्यादा नेशनल हाईवे बने हुए हैं. कुछ छोटे हैं, तो कुछ काफी बड़े हैं. हम आपको बताने वाले हैं. देश भारत का सबसे लंबा और बड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

राष्ट्रीय राजमार्ग 44

राष्ट्रीय राजमार्ग 44 (NH-44) भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग(bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg) है। यह नॉर्थ साउथ कॉरिडोर का सबसे बड़ा हिस्सा है. यह उत्तर दिशा में श्रीनगर शहर से आरम्भ होकर दक्षिण की तरफ कन्याकुमारी में समाप्त होता है. राष्ट्रीय राजमार्ग 44 (NH-44) भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग(bharat ka sabse lamba rashtriya rajmarg) है। यह नॉर्थ साउथ कॉरिडोर का सबसे बड़ा हिस्सा है.

यह कुल 11 राज्यों से होकर गुजरता है. राष्ट्रीय राजमार्ग 44 अपने पूरे फ़ासले में जम्मू और कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिल नाडु के राज्यों से गुज़रता है। इस मार्ग की कुल लम्बाई 3,745 किलो मीटर या 2,327 मील है.

bharat-ka-sabse-lamba-rashtriya-rajmarg


इससे पूर्व राष्ट्रीय राजमार्ग 7 ( NH-7) को भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग होने का दर्जा प्राप्त था. परन्तु अब NH-7 राष्ट्रीय राजमार्गों के उस समूह का हिस्सा है जिन्हें सयुंक्त रूप से NH-44 कहा जाता है। NH-44 का अलग से निर्माण नहीं किया गया है.जबकि श्रीनगर को कन्याकुमारी को जोड़ने वाले विभिन्न राजमार्गों को मिलाकर इनको एक जॉइंट नाम दिया गया है. जिसको अब NH-44 कहा जाता है।

एक खास जानकारी आपको बता दें कि नेशनल हाईवे-44 पर भारत का पहला underpass जानवरों के लिए बनाया गया है यह मध्यप्रदेश में कान्हा नेशनल पार्क में स्थित है जहां से जानवर निकलते हैं और ऊपर ब्रिज से गाड़ियां निकलती है. इसकी लंबाई 750 मीटर है, जो विश्व में भी सबसे बड़ा जानवरों के लिए underpass है.

राष्ट्रीय राजमार्ग 27

भारत का दूसरा सबसे लम्बा नेशनल हाईवे 27 हैं. जिसकी लम्बाई 3,507 किलोमीटर हैं. यह राजमार्ग भारत के दो हिस्से पूर्वी और पश्चिमी को जोड़ता हैं. इस राजमार्ग के दोनों छोर बिंदु शहर गुजरात और असम के क्रमश पोरबंदर और सिलिचर को जोड़ता हैं. यह राजमार्ग पूर्व से पश्चिम तक सात राज्यों और 47 शहरो को जोड़ता हैं.

NH 48 – 2,807 किमी (पुराना NH 8)

राष्ट्रीय राजमार्ग 48 (NH 48) दिल्ली से शुरू होता है और चेन्नई में समाप्त होता है। पुराने NH 8 के राष्ट्रीय राजमार्ग, दिल्ली से जयपुर तक किशनगढ़ एक्सप्रेसवे, नेशनल एक्सप्रेसवे 1, उदयपुर से वड़ोदरा और बड़ौदा से बॉम्बे (NH 8 पुराना) तक फैला हुआ है और इसे NH 48 में बदल दिया गया है। अहमदाबाद वडोदरा एक्सप्रेसवे, दिल्ली गुड़गांव एक्सप्रेसवे, जयपुर -किशनगढ़ एक्सप्रेस हाईवे और वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे नए नंबर वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 48 का हिस्सा हैं।

अतिमहत्वपूर्ण प्रश्नोत्तरी (भारत और राज्य के राष्ट्रीय राजमार्ग)

भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

भारत का सबसे छोटा राजमार्ग कौनसा है?

NH 44 भारत के किन दो शहरो को जोड़ता है?

उत्तर प्रदेश का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग किन मुख्य दो शहरो को जोड़ता है?

उत्तर प्रदेश का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

उत्तर प्रदेश का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग निम्न शहर में से नही गुजरता है?

उत्तर प्रदेश का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

भारत में राष्ट्रीय राजमार्गो की लम्बाई में राजस्थान के बाद उत्तर प्रदेश का दूसरा स्थान आता है. उत्तर प्रदेश का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग (NH – 2) 2 है. उत्तरप्रदेश से गुजरने वाला यह सबसे लंबा हाईवे दिल्ली को कोलकाता से जोड़ता है. NH 2 से उत्तरप्रदेश के किन किन शहरो से गुजरता है? NH 2 उत्तरप्रदेश के 7 जिलो से होकर गुजरता है. दिल्ली,मथुरा, आगरा, कानपूर, इलाहाबाद, वाराणसी, और कोलकाता से गुजरता है.

एनएच 52 – 2,317 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 52, 2,317 किलोमीटर लंबा राजमार्ग है जो कि उत्तर भारत को दक्षिण भारत से जोड़ता है। NH 52 हिसार, जयपुर, कोटा, इंदौर, धुले, औरंगाबाद, बीजापुर से हुबली के मुख्य शहरों से होकर गुजरता है।

एनएच 30 – 2,010 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 30, को पहले राष्ट्रीय राजमार्ग 221 से जाना जाता था, जो कि उत्तराखंड राज्य के सितारगंज को आंध्र प्रदेश के इब्राहिमपटनम से जोड़ता था। NH 30 लखनऊ शहर से इलाहाबाद, जबलपुर, रायपुर और भद्राचलम शहरों के मध्य से 2,010 किलोमीटर की दूरी तय करने वाले भारत के 6 राज्यों से होकर गुजरता है।

एनएच 6 – 1,873 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 6 (NH 6) मेघालय में जोरबात के पास से शुरू होता है और मिज़ोरम में बेचना समाप्त होता है। 1,873 किलोमीटर लंबा यह राजमार्ग उत्तर पूर्व भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग है. यह राज-मार्ग मेघालय, असम(asam) और मिज़ोरम राज्यों से होकर गुजरता है।

एनएच 53 – 1,781 किमी

राष्ट्रीय राज मार्ग 53 गुजरात राज्य में हजीरा और ओडिशा में प्रदीप बंदरगाह को जोड़ने वाला 1,781 किलो मीटर लंबा एक राजमार्ग है। NH 52 गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और ओडिशा के चार राज्यों से होकर गुजरता है।

NH 16 – 1,659 किमी (पुराना NH 5)

राष्ट्रीय राज मार्ग 16 (NH 16) एक स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना का हिस्सा है, जोकि पश्चिम बंगाल, ओडिशा, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के पूर्वी तट के साथ होकर चलता है। 1,659 किलोमीटर लंबा सड़क राज मार्ग चार राज्यों के अनेकों शहरों और कस्बों को जोड़ता है और तमिलनाडु में चेन्नई में जाकर समाप्त होता है।

NH 66 – 1,593 किमी (पुराना NH 17)

राष्ट्रीय राजमार्ग 66 (NH 66) को पहले NH 17 के नाम से जाना जाता था. राजमार्ग 66 भारत के पश्चिमी घाट के समानांतर चलता है। यह पनवेल नगर से शुरू होता है और कन्याकुमारी में खत्म होता है, महाराष्ट्र के अनेक राज्यों, गोवा, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के सभी प्रमुख शहरों और कस्बों से होकर यह राजमार्ग गुजरता है। एनएच 66 कारवार, चिपलुन, मानगाँव, मारवांथे और अलाप्पुझा के पश्चिमी तट के साथ भारत केसबसे सुंदर सड़क यात्रा का दृश्य प्रदान करता है।

NH 19 – 1,435 किमी (पुराना NH 2)

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 19 भारत के शीर्ष(top) 10 सबसे लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों में से एक है, जिसको अक्सर दिल्ली कोलकाता रोड भी कहा जाता है। 1,435 किलोमीटर लंबा यह राज मार्ग भारत के सबसे व्यस्तम राष्ट्रीय राजमार्गों में से एक है, जो कि दिल्ली, आगरा, वाराणसी, बरही, आसन सोल और कोलकाता से होकर गुजरता हैं. पहले यह स्वर्णिम चतुर्भुज का हिस्सा था और एक प्रमुख हिस्सा ऐतिहासिक ग्रैंड ट्रंक रोड है।

एनएच 34 – 1,426 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 34 (NH 34) उत्तराखंड के गंगोत्री धाम से चलता है और जबलपुर के लखनादोन के पास NH44 पर समाप्त होता है। 1,426 किलोमीटर लंबे राष्ट्रीय राजमार्ग मार्ग में उत्तरकाशी, ऋषिकेश, हरिद्वार, गाजियाबाद, बुलंदशहर, अलीगढ़, दमोह और जबलपुर शामिल हैं।

एनएच 2 – 1,214 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 2 (NH 2) डिब्रूगढ़ के पास शुरू होता है और असम, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम को शिवसागर, कोहिमा, इंफाल और तुईपांग से जोड़ता है। NH 2, 1,214 किलो मीटर लंबा राजमार्ग उतरी पूर्व भारत का दूसरा सबसे लंबा नेशनल हाईवे है।

एनएच 13 – 1,150 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 13 (NH 13) को पहले NH 229 के रूप में जाना जाता था, जो अरुणाचल प्रदेश के तवांग से असम में पासीघाट तक चलता था। 1,150 किलोमीटर लंबा यह राजमार्ग असम के खूबसूरत शहर सेला झील, दरांग, बोमडिला, जीरो टाउन, बीरू और पासीघाट से होकर गुजरता है।

एनएच 47 – 1,080 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 47 (NH 47) गुजरात के बामनबोर से शुरू होता है और महाराष्ट्र के नागपुर में समाप्त होता है। 1,080 किलोमीटर लंबे राजमार्ग मार्ग में बामनबोर, लिंबडी, गोधरा, इंदौर, हरदा बैतूल और नागपुर में NH44 से जुड़ते हैं।

एनएच 31 – 968 किमी

राष्ट्रीय राजमार्ग 31 (NH 31) उत्तर प्रदेश से शुरू होता है और पश्चिम बंगाल में समाप्त होता है। 968 किलोमीटर लंबा राजमार्ग बिहार राज्य से होकर गुजरता है और पश्चिम बंगाल राज्य राजमार्ग 10 के साथ पार किया जाता है।


भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?
NH-47A भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग है. इसकी कुल लंबाई 6 किलोमीटर है जो एर्नाकुलम को कोच्चि बंदरगाह से जोड़ता है.

शिवजी की कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published.