भारत की दस सबसे बड़ी कंपनिया – Top 10 companies in India

bharat ki sabse badi comapniya इंडिया टॉप कंपनी टॉप 10 कंपनी इन इंडिया मार्किट कैप के अनुसार भारत की सबसे बड़ी कंपनिया top companies in india hindi famous companies in india indian companies by market cap

यहाँ हम मार्किट कैपिटल(बाजार पूंजी) के अनुसार भारत की दस सबसे बड़ी कंपनियां(top companies in india hindi) के बारें में जानेंगे.

मार्किट कैप एक टर्म होती जिसका किसी कंपनी के सम्बन्ध में सीधा मतलब होता हैं कि – उस कम्पनी का बाज़ार मूल्य कितना हैं. मार्किट कैप की गणना उसके मौजूद शेयर का भाव और बकाया(जिसको खरीदा का सकता हैं या पब्लिक में लिस्टेड हिस्सेदारी) शेयरों की कुल संख्या के आधार पर की जाती हैं.

Jump On Query -:

भारत की सबसे बड़ी कंपनी: top companies in india

कोई भी कंपनी कितनी बड़ी हैं इसका अनुमान या गणित लगाने के लिए मार्किट कैप एक महत्वपूर्ण टर्म हैं. किसी भी कंपनी के मार्किट कैप की गणना समय समय पर की जाती हैं. जिससे निवेश करने के लिए डेटा मिल जाता हैं. यहाँ हमने मार्किट कैप के साथ साथ कंपनी के बारें में कुछ इनफार्मेशन भी शेयर की हैं.

यहाँ जो लिस्ट दी गयी हैं, जून 2022 को अपडेट की गयी हैं.

भारत की पहली सबसे बड़ी कंपनी: रिलायंस इंडस्ट्रीज

Reliance Industries Limited (RIL) भारत की एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है. जिसका मुख्यालय मुंबई में है. रिलायंस के सीईओ मुकेश अम्बानी हैं. रिलायंस कंपनी की स्थापना धीरूभाई अंबानी और चंपकलाल दमानी ने 1960 के दशक में रिलायंस कमर्शियल कॉर्पोरेशन के रूप में की थी।

रिलायंस के प्रोडक्ट

रिलायंस भारत में एनर्जी, पेट्रोलियम, कपड़ा, दूरसंचार जिओ सिम के आलावा कई प्रोडक्ट के मालिक हैं.  

रिलायंस भारत की सबसे अधिक मुनाफा कमाने वाली कंपनियों में से एक है। रिलायंस RIL का बाजार पूंजीकरण या मार्किट कैपिटल 1,780,945 करोड़ रुपये हैं.  

भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी: टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS)

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड (TCS) एक भारतीय बहुराष्ट्रीय इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी(IT) की कंपनी हैं.

टाटा कंपनी का विस्तार 46 देशों में 149 स्थानों पर हैं. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज TCS का मुख्यालय मुंबई महाराष्ट्र हैं.

टीसीएस भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी है और मार्किट कैपिटल के हिसाब से दूसरी सबसे बड़ी भारतीय कंपनी है। टीसीएस अब दुनिया भर में सबसे मूल्यवान आईटी सेवा ब्रांडों में से एक है। टीसीएस का बाजार पूंजीकरण मूल्य रु. 1,22,816 करोड़ रुपये हैं.

भारत की तीसरी सबसे बड़ी: एचडीएफसी बैंक(HDFC BANK)

एचडीएफसी बैंक एक भारतीय बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है. HDFC BANK की स्थापना 1994 में मुंबई में की गयी थी. HDFC भारत का सबसे बड़ा निजी बैंक है.

मार्च 2020 के डेटा के अनुसार HDFC की 5130 शाखाएं हैं. HDFC का मार्किट कैपिटल 775,226 करोड़ रूपये हैं.

भारत की चौथी सबसे बड़ी कंपनी: इंफोसिस

भारत की चौथी सबसे बड़ी कंपनी इंफोसिस हैं. इंफोसिस लिमिटेड की स्थापना 1981 में हुई थी.  

इंफोसिस लिमिटेड एक भारतीय बहुराष्ट्रीय निगम है जो बिज़नेस गाइड, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी और आउटसोर्सिंग सेवाएं प्रदान करता है.

इन्फोसिस टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के बाद दूसरी सबसे बड़ी भारतीय आईटी कंपनी है जिसका मुख्यालय बैंगलोर, कर्नाटक, भारत में है। इंफोसिस का मार्किट कैपिटल 22,239 करोड़ रूपये हैं.

भारत की पांचवी सबसे बड़ी कंपनी: हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL)  

हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) की स्थापना 1933 में हुई थी। यह एक ब्रिटिश-डच निर्माण कंपनी है जिसका मुख्यालय मुंबई, भारत में है। इसके उत्पादों में फ़ूड प्रोडक्ट्स, सेनेटाईज, पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स शामिल हैं.

हिंदुस्तान यूनिलीवर का मार्किट कैपिटल मूल्य 542,450.47 करोड़ रुपये हैं.

भारत की छठी सबसे बड़ी कंपनी: भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी)

भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) एक भारतीय वैधानिक बीमा और निवेश निगम कंपनी है, जिसका मुख्यालय मुंबई में है।

 एलआईसी भारत सरकार के स्वामित्व में है। यह भारत में 65 से अधिक वर्षों से सेवा देने वाले सबसे पुराने और सबसे बड़ी बीमा कंपनी में से एक हैं.

भारत की सबसे बड़ी और एकमात्र सार्वजानिक बिमा कंपनी LIC का मार्किट कैपिटल 5,10,174 करोड़ रूपये हैं.

भारत की सातवी सबसे बड़ी कंपनी: एचडीएफसी

हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC) एक भारतीय वित्तीय सेवा कंपनी है जिसकी स्थापना 1977 में मुंबई में की गयी थी. भारत में आवास(रेजिडेंस) के लिए फाइनेंस की उपलब्धता करवाता हैं.  

एचडीएफसी बैंकिंग, जीवन बीमा(लाइफ इन्सुरेंस), विभिन्न प्रकार के लोन जैसे एजुकेशन लोन, होम लोन की सुविधा उपलब्ध करवाता हैं. एचडीएफसी का मार्किट कैपिटल 422,507.21 करोड़ रुपये हैं.

भारत की आठवी सबसे बड़ी कंपनी: आईसीआईसीआई बैंक

आईसीआईसीआई बैंक भारत की एक बहुराष्ट्रीय बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है जिसका मुख्यालय मुंबई में है और इसका पंजीकृत कार्यालय वडोदरा, गुजरात में है।

आईसीआईसीआई बैंक, बैंकिंग सर्विस, लाइफ और नॉनलाइफ इन्सुरेंस और लोन की व्यवस्था कराती हैं.

आईसीआईसीआई बैंक की पूरे भारत में 5,275 शाखाएं और 15,589 एटीएम हैं.

फरवरी 2020 तक भारत सहित 17 देशों में इसकी उपस्थिति है। आईसीआईसीआई बैंक का मार्किट कैपिटल 523,377.82 करोड़ रुपये हैं,  

भारत की नौवी सबसे बड़ी कंपनी: बजाज फाइनेंस

बजाज फिनसर्व की सहायक कंपनी बजाज फाइनेंस लिमिटेड एक भारतीय गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) है। कंपनी उपभोक्ता वित्त,  SME उद्योग (छोटे और मध्यम आकार के उद्यम) को धन प्रबंधन कराने का काम करती है.

बजाज फाइनेंस का पुणे, महाराष्ट्र में मुख्यालय स्थित हैं. कंपनी की पूरे भारत में 294 शाखाएं हैं और 497 ग्रामीण स्थानों पर 33,000 से अधिक सर्विस सेंटर हैं।

बजाज फाइनेंस का मार्किट कैपिटल 363,863.11 करोड़ रूपये हैं.

भारत की दसवी सबसे बड़ी कंपनी: भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई)

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) एक भारतीय बहुराष्ट्रीय, सार्वजनिक क्षेत्र की बैंकिंग और वित्तीय सेवा सांविधिक निकाय है जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है।  

2021 तक एसबीआई की 22,000 से अधिक शाखाएं और 62,617 एटीएम हैं। भारतीय स्टेट बैंक का वर्तमान मार्किट कैपिटल मूल्य 417,850.29 करोड़ रुपये हैं.

बोनस – भारती एयरटेल

भारतीय एयरटेल लिमिटेड, जिसे अक्सर एयरटेल के नाम से भी जाना जाता है, एक भारतीय दूरसंचार सेवा व्यवसाय है जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में है.

एयरटेल 2जी, 4जी एलटीई, 4जी+ मोबाइल सेवाएं, फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड और वॉयस सेवाएं प्रदान करता है. एयरटेल भारत का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर और दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क प्रदाता है। एयरटेल का मौजूदा मार्किट कैपिटल 408,519.85 करोड़ रुपये हैं.

यहाँ हमने भारत की दस सबसे बड़ी कंपनियों(top 10 companies in india) के बारें में जाना हैं. यहाँ पर हमने कंपनियों की रैंकिंग का निर्धारण मार्किट कैपिटल के अनुसार किया हैं. मार्किट कैपिटल में बारें मे अधिक जानकरी के लिए आप नीचे कुछ पॉइंट्स को पढ़ सकते हैं.

बाजार पूंजीकरण क्या है?

बाजार पूंजीकरण कंपनी के मौजूदा शेयर की कीमत और बकाया शेयरों की कुल संख्या के आधार पर कंपनी का कुल मूल्यांकन है। मार्किट कैपिटल की गणना इस सूत्र से की जाती हैं.

बाजार पूंजीकरण(मार्किट कैपिटल) = (1 शेयर का मौजूदा बाजार मूल्य)*(बकाया शेयरों की कुल संख्या)

बाजार पूंजीकरण के लाभ

मार्किट कैपिटल से कंपनियों को लार्ज-कैप, मिड-कैप और स्मॉल-कैप में विभाजित करने में सहायता मिलती हैं.

लार्ज कैपिटल कंपनी की वैल्यू कितनी हैं?

28,500 करोड़ रुपये या उससे अधिक के मार्केट कैप वाली कंपनियां लार्ज-कैप स्टॉक हैं।

मिड कैप कंपनी की वैल्यू कितनी हैं?

8,500 करोड़ रुपये से 28,500 करोड़ रुपये के मार्केट कैप वाले कंपनी स्टॉक मिड-कैप स्टॉक हैं.

स्माल कैप कंपनी की वैल्यू कितनी हैं?

8,500 करोड़ रुपये से कम मार्केट कैप वाले स्मॉल-कैप स्टॉक हैं।

Private Limited Company Rules in Hindi प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के नियम

एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने का तरीका, मनी ट्रांसफर एप्प

Leave a Comment

Your email address will not be published.