cartoon blue background and text bada hathiyar

सबसे बड़ा हथियार – अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां

सबसे बड़ा हथियार – अकबर बीरबल हिंदी स्टोरीज

‘अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां’ की श्रंखला में आप पढने वाले हैं – सबसे बड़ा हथियार कौन-सा है

बादशाह अकबर और बीरबल दोनो का रिश्ता राजा और मंत्री से कुछ बढ-कर था. दोनों के बीच कुछ न कुछ लतीफे चलते ही रहते. अकबर और बीरबल के बीच कभी कभी कुछ एसी बाते होती जिनको परखने में जान का खतरा भी होता. एक दफ़ा बादशाह अकबर ने बीरबल से पुछा कि – इस संसार में सबसे बड़ा हथियार कोनसा हैं.
बादशाह संसार में सबसे बड़ा हथियार हैं – आत्म-विश्वास… बीरबल ने जवाब दिया.
बादशाह अकबर ने इस बात को अपने दिल में रख लिया और किसी दिन इसकी परख करने का निश्चय किया. देवयोग से एक दिन एक हाथी पागल हो गया. हाथी को काबू करने के लिए उसे जंजीरों में जकड़ा गया.
बादशाह अकबर ने अपने दिमाग में बीरबल के आत्मविश्वास को परखने की सोची.


अकबर ने बीरबल के आत्म विस्वाश की परख करने के लिए एक तरफ बीरबल को बुलावा भेजा. दूसरी तरफ महावत को हाथी की जंजीरों को खोलने का आदेश दिया.
बीरबल को इस बात का पता नही था. जब बीरबल, बादशाह अकबर से मिलने के लिए दरबार जा रहे थे तो पागल हाथी की जंजीरों को खोल दिया गया. बीरबल अपनी मस्ती में ही चले जा रहे थे, उनकी नज़र पागल हाथी पर पड़ी.


हाथी चिंघाड़ता हुआ उनकी तरफ आ रहा था. बीरबल बेहद बुद्धिमान, हाजिर जवाब और शातिर दिमाग के थे. बीरबल तुरंत समझ गये की बादशाह ने आत्मविश्वास की परख के लिए इस हाथी की जंजीरे खोल दी गयी हैं.
हाथी दौड़कर सुन्ड ऊँची करके बीरबल की तरफ आ रहा था. बीरबल एक ऐसे स्थान पर खड़े थे कि वहां से भागकर भी बच नही सकते थे. ठीक उसी समय बीरबल को कुत्ता दिखायी दिया. हाथी इतना करीब आ गया कि बीरबल को सुन्ड में लपेट लेता. तभी बीरबल ने कुत्ते की पिछली दोनों टांगो को पकडकर तेजी से हाथी पर फेंका. कुत्ते की भयानक चिके सुनकर हाथी गबरा गया और भागने लगा.


अकबर को इस बात की खबर मिल गयी, और उनको यह मानना पड़ा की – वाकई संसार का सबसे बड़ा हथियार “आत्मविश्वास” हैं. और बीरबल ने जो कुछ भी कहा वो सच हैं.


इस अकबर बीरबल की कहानी(akbar birbal kahaniya) सबसे बड़ा हथियार से हमने क्या सिखा – जीवन में कठिनाईयों पर विजय पाने के लिए आत्मविश्वास एक महत्वपूर्ण हथियार हैं. हाथी रुपी विडम्बनायें आती रहेंगी, हमारा कर्तव्य हैं कि उसके सामने डटकर खड़े रहे. अगर हम अपने आत्म विश्वास को कम नहीं करे तो अंत में भगवान सहायता के कोई न कोई रास्ता जरूर निकल देंगे, जैसे बीरबल को कुत्ते के रूप में मिला.

समझदारी से घड़ा भरकर दिखाओ – एक कहानी


तो ये थी अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां(akbar birbal kahaniya)’ की एक रोचक(intersting) और मजेदार कहानी(story). एसे ही हिंदी कहानियां अपनी मेल में प्राप्त करने के लिए हमारे हिंदी कहानियां(hindi stories) के पेज को subscribe करे. आप यहाँ नीचे दिए गये सब्सक्राइब बॉक्स में भी अपना विवरण भर सकते हैं.

अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां के आलावा हम दुसरे विषयों पर भी लिखते हैं आप उन को भी पढ़ सकते हैं.
हमारे द्वारा कृत दूसरी “कहानियां” पढने के लिए यहाँ लिंक पर क्लिक करे – {क्लिक और हिंदी कहानियां पढ़े}

[email-subscribers-form id=”5″]

Leave a Comment

Your email address will not be published.