red bold text lapta bhai

लापता भाई – mystery story in Hindi part 1

लापता भाई- mystery story part 1

लापता भाई part 1

mystery stories – लापता भाई part 1
आज दुनिया को देखने के लिए ज्यादा प्रयास नही करने पड़ते हैं. ऐसा लगता हैं की दुनिया हमसे ज्यादा दूर नहीं हैं. एक वक्त ऐसा भी था, जब किसी को अपनी छोटी सी बात पहुँचाने के लिए महीने लग जाते थे. लेकिन आज वही दिन सेकंड्स में बदल चुके हैं.

उस वक्त जब पूरी दुनिया आजादी के लिए संघर्ष कर रही थी तब लोग अपनी जीवन को शांति से व्यतीत करने के लिए कोई शुकून भरी जगह खोज रहे थे. लोग आजीविका के लिए शहरो की तरफ पलायन हो रहे थे.
अमेरिका का अलास्का, उस वक्त पूरे विश्व के स्वतंत्र राज्यों में सबसे बड़ा राज्य था, लगभग 700 वर्ग मील की भूमि के क्षेत्र में फैला हुआ यह राज्य धीरे-धीरे विकसित हो रहा था. लेकिन अब तक इस राज्य की जनसंख्या मात्र 6 लाख थी. जो की पचास राज्यों में अड़तालीसवे नंबर पर था. लोग रोजगार के बढ़ते अवसर को देखते हुए, अलास्का में पलायन कर रहे थे. जितना बड़ा अलास्का हैं, उतना ही रहस्यमयी यहाँ का जंगल हैं. लेकिन तब नये नये उद्योग और बड़ी मात्रा में आबादी बढ़ रही थी.
रोबर्ट बॉब, उम्र लगभग 43 साल, अपने दो बच्चे डेविड, रोनाल्ड और एक लड़की अमिला के साथ क्रिक नदी के किनारे आकर बस गए. बॉब परिवार अब तक संघर्षमय जिंदगी जी रहा था. कई युद्धों में बॉब परिवार ने कई राते, कानों को दोनों हाथो से भीचकर बिताई. यहाँ पर सब कुछ बेहतर हैं. जंगल, नदी, स्कूल और सबसे बड़ी यहाँ पर शांति हैं.
डेविड, रोनाल्ड और अमिला तीनो भाई बहन साथ में पले और बड़े हुए. तीनो भाई बहन साथ में खेलते, मछली लाने जाते, और हमेशा तैराकी करने के लिए जाते और कभी कभी जंगल की लम्बी यात्रा पर भी जाया करते थे. तीनो भाई बहन जंगल से काफी भलीभांति परिचित हो गए. रोबर्ट बॉब ने तीनो को यहाँ पर स्कूल में भरती करवा दिया. समय बीतता गया और गाँव कस्बे में बदल गया. डेविड अब 15 साल का चूका था. सब कुछ अच्छा चल रहा था. लेकिन 1880 की घटना ने सब कुछ बदल दिया.

डेविड का गायब होना

इतने सालो में डेविड ने अपने बहुत से मित्र बना लिए. डेविड को पार्टियों में जाना, दोस्तों के साथ लॉन्ग ड्राइव पर जाना, शराब पीना शुरू कर दिया. छुट्टियों के दिन चल रहे थे. सभी लोग पार्टियों को एन्जॉय कर रहे थे. इसलिए, एक रात डेविड ने अपने दोस्तों के साथ पार्टी करने का प्लान बनाया. डेविड बिना अपने परिवार को बताये वहां से निकल गया. डेविड ने अपनी बाइक ली और दोस्तों के साथ निकल पड़ा. चूँकि डेविड जंगल से काफी अच्छी तरह से परिचित था, इसलिए उसकी बाइक सबसे आगे चलती थी. डेविड और उसके मित्र जंगल में काफी आगे जाकर रुके. आग जलाई और शराब पीने लगे. अभी ज्यादा चढ़ी नही थी. सभी दोस्त शहर के लिए निकल गए. सभी बार में गए. वहां पर और शराब पीकर डांस करने लगे. अब लड़कियों को देखकर थोडा होश खो दिया. और किसी से हाथापाई हो गई, हालाँकि इसमें डेविड इतना शामिल नहीं था, लेकिन फिर भी उसने अपने दोस्तों का साथ दिया.
लड़ते लड़ते दोनों घुटों ने बाइक रेस का चेलेज ले लिया. दोनों घुटो ने जंगल के सबसे लम्बे रास्ते को अपना डेस्टिनेशन पॉइंट बनाया.
दोनों पक्षों से तीन तीन लोग साथ में आए. सभी ने अपनी बाइक एक पंक्ति में लगाई और जैसे ही झंडा गिरा, सभी ने तेज रफ़्तार से बाइक को दौड़ाई.
पता नही डेविडी को क्या सूझ रहा था, वो सबसे आगे तेजी से गाड़ी दौड़ा रहा था. डेविड ने सबसे पहले पहुंचकर अपने दोस्तों की लाज रख ली और बाजी मार ली. सभी दोस्त वापस घर को रवाना हुए. सभी दोस्त एक साथ एक पंक्ति में चल रहे थे. लेकिन डेविड सबसे पीछे चल रहा था. सभी दोस्तों ने बाइक तेजी से दौड़ाई. 12 मील की दुरी को पार करके वापस गाव लौटना था, हालाँकि रास्ता थोडा लम्बा था, लेकिन सभी दोस्त हवा की रफ़्तार से बाइक को दौड़ा रहे थे.
शराब के नशे में पता ही नहीं चला कब डेविड पीछे रह गया. सभी दोस्त एका एक रुक गए. डेविड अभी एक दो मिनट में आता ही होगा, ऐसा सोचकर सभी दोस्त वहीँ खड़े रहे, लेकिन एक मिनट, एक घंटे में और घंटे कब दिन में बदल गए, इसका किसी को ठिकाना नहीं रहा. सभी दोस्त वहीँ पर सो गए थे. लेकिन डेविड का अभी कोई पता नहीं चला.

हो सकता हैं की उसने रात को सोने के लिए कहीं बाइक रोकी हो. इस चक्कर में पुलिस रिपोर्ट भी नहीं करवाई. सभी दोस्त वापस डेविड को खोजने के लिए गए. लेकिन डेविड कहीं नहीं मिला. बॉब परिवार को सूचित होने पर, बॉब परिवार स्थानीय पुलिस को लेकर वहां पहुंची. स्थानीय पुलिस ने शीघ्र ही बॉब की बाइक को खोज लिया, जो की एक नदी के किनारे खड़ी थी. कोई भी हताश नहीं था, क्योंकि डेविड जंगल को अच्छी तरह से जानता था, और जंगल में शिकार होने का भी कोई खतरा नहीं था. और नदी भी इतनी तेज नहीं थी की किसी को बहाकर ले जाये. लेकिन अब जो सुराख़ मिला वो सभी को चोकाने वाला था. डेविड के जूते पानी से भीगे हुए और एक पेड़ के सहारे खड़े मिले, जैसे मानो की सूखने के लिए रखे हो.
पुलिस की पूछताछ पर दोस्तों ने सारी बातें बतायी, पुलिस को कुछ दोस्तों पर शक हुआ. इसलिए सभी को बुलाकर पॉलीग्राफ टेस्ट लिया. सभी दोस्तों ने इस परीक्षा को पास किया.
अब डेविड को खोजने का कोई रास्ता नहीं बचा. सिवाय इस आस के, की कभी वह लौट आए. कुछ समय तक बॉब परिवार डेविड का इंतजार करता रहा. सालो साल तक डेविड के खोने का दुःख मनाता रहा. पता नही किसी ने उसका अपहरण किया या उसका मर्डर. लेकिन फिर सर्दी की ठण्ड में कहीं उनकी आशा भ ठंडी पड गई थी. बॉब परिवार डेविड को खोने के दुःख के साथ आगे बढ़ता रहा. समय एक एसा मोड़ लेकर आया कि अब डेविड को याद करने की याददाश्त कमजोर पड़ गई.
समय बीतता चला गया और, बच्चों के भी बच्चे हो गए. रोनाल्ड और अमिला की सादी हो गई थी, रोनाल्ड एक बच्चे का पिता था, और एक टीचर भी. रोबर्ट बॉब अपने ग्रैंड बच्चे के साथ खेलता और खुस रहता.
लेकिन ये ख़ुशी भी ज्यादा दिन तक रहने वाली नहीं थी. समय एक बार फिर से पलटा और फिर से कुछ एसा कर दिखाया, जिसको बॉब परिवार जीते जी कभी नहीं भूल सका.

क्या आप जानना चाहते हैं की आखिर बॉब परिवार एसी कौनसी आफत आ पड़ी थी की, एक बार फिर से बॉब परिवार दुःख के साये में घिर गया.

जानने के लिए जुड़े रहे “लापता भाई- mystery story in hindi part 1” के साथ. इसका पार्ट 2 जल्द ही अपलोड होने वाला हैं.

part 2

Leave a Comment

Your email address will not be published.