मुर्गी फार्म बनाने का नक्शा – आधुनिक पोल्ट्री फार्म नक्शा लागत गाइड

मुर्गी फार्म(पोल्ट्री फार्म) बनाने का नक्शा – जैसे जैसे अण्डों की डिमांड बढ़ रही हैं, लोग पोल्ट्री फार्म की तरफ बढ़ रहे हैं. पोल्ट्री फार्म का नक्शा इस प्रकार से डिजाईन किया जाना चाहिए ताकि आपको ज्यादा से ज्यादा मुनाफ़ा हो सके.

बहुत सारे लोग मुर्गी फार्म का नक्शा डिजाईन किये बिना पोल्ट्री फार्म शुरू कर देते हैं, इसकी वजह से उनको कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं. जैसे – कभी दरवाजा छोटा हो जाता हैं, कभी जाली छोटी हो जाती हैं तो कभी दो फार्म पास में स्थापित कर देते हैं, जिनसे संक्रमण के स्थानातरण होने का खतरा बढ़ जाता हैं. इन परेशानियों से कभी कभी fcr घट जाती है, जिसका असर मुनाफे पर पड़ता हैं.  

  मुर्गी फार्म का नक्शा पोल्ट्री फार्म का सबसे महत्वपूर्ण कदम होता हैं. यहाँ रिसर्च कर एक्सपर्ट के सुझाव को आपके सामने रखा हैं. आप इन बातो को जरूर ध्यान में रखे. चलिए जानते हैं कि पोल्ट्री फार्म बनाने का तरीका क्या होना चाहिए या आधुनिक पोल्ट्री फार्म का पोल्ट्री फार्म नक्शा कैसे बनाया जाता हैं.  

मुर्गी फार्म बनाने का नक्शा

मुर्गी फार्म के नक़्शे के लिए हम सभी प्रकार के पॉइंट्स की चर्चा करेंगे. एक बेहतर और सभी सुविधाओं से लेस मुर्गी फार्म बनाने के लिए एक बड़े फार्म की जरुरत होती हैं. मुर्गी फार्म के लिए एक शेल्टर, गोदाम, मेनेजर रूम, स्टोर रूम, फूट बाथ बाथरूम सभी का एक तकनीक से डिजाईन होना चाहिए. हम एक एक करके सभी को जानते हैं कि किस तरह मुर्गी फार्म का नक्शा बनाया जाना चाहिए. हम यहाँ 500 मुर्गियों के लिए एक नक़्शे के प्लान को लेकर चल रहे हैं, आप अपने हिसाब से इसको कम-ज्यादा कर सकते हैं.

  • पोल्ट्री फार्म की मुख्य बाउंड्री

पोल्ट्री फार्म में मुर्गी का शेड, गोदाम, स्टोर रूम, वाहन एंट्री के लिए रास्ता, जेनेरटर रूम, मेंनेजर रूम, बाथरूम, फूटबाथ को शामिल करना होता हैं. अगर आप एक साथ दो पोल्ट्री फार्म बन रहे हैं तो दोनों शेड के बीच में कम से कम 50 फीट की दुरी रखनी चाहिए. जैसा कि हम 500 मुर्गियों के लिए फार्म का डिजाईन कर रहे हैं तो शेड के लिए 5000 स्क्वायर फ़ीट की जगह चाहिए.

शेड के बाद उसके चारो ओर  गोदाम, स्टोर रूम भी बनाने होते हैं. इसलिए आपको चारो और जादा जमीन की आवश्यकता होती हैं. 500 मुर्गियों के लिए एक सुव्यवस्थित पोल्ट्री फार्म एक लिए 150*250 फीट की बाउंड्री की आवश्यकता होती हैं.

  • मुर्गियों का शेड

500 मुर्गियों के शेड के लिए (25*200)फीट जगह की जरुरत होती है.

अगर आप 1000 मुर्गोयों के लिए फार्म बना रहे हैं तो 10000 स्क्वायर फीट की जगह शेड के लिए चाहिए. या आप इस तरह गणित लगा सकते हैं कि एक मुर्गी के लिए 2 या 3 फीट स्क्वायर फीट जगह की जरुरत होती हैं. जहाँ गर्मी होती हैं, वहां 5000 स्क्वायर फ़ीट में 500 मुर्गियों का औसत रखना चाहिए.

  • गोदाम

मुर्गियों के लिए दाना चुरी रखने के लिए एक बड़े गोदाम की आवश्यकता होती हैं. इस गोदाम को पोल्ट्री फार्म से कम से कम 30 फीट की दुरी पर स्थापित करना चाहिये, ताकि दानो में किसी तरह का कोई संक्रमण नहीं लगे.

एक गोदाम को कम से कम 15*15 फीट का बनाना चाहिए. गोदाम को थोडा बड़ा रखना चाहिए ताकि आप जयादा माल को स्टोर कर सके और मिक्सिंग का काम भी आसानी से कर सके.

इस गोदाम को ऐसे स्थान पर रखना चाहिए, जहाँ किसी प्रकार से बारिश का पानी या फार्म का पानी उसके अन्दर न जा पाए. गोदाम को मुर्गी शेड के दरवाजे के आस पास बनाना चाहिए. ताकि वहां तक दाना को आसानी से पहुंचाया जा सके.

  • मेनेजर रूम या ऑफिस

मेनजर रूम या ऑफिस ऐसे स्थान पर बनाना चाहिए, जहाँ से पूरे पोल्ट्री फार्म को मोनीटर किया जा सके. ऑफिस में एक टेबल कुर्सी दो चार लोगों के बैठने के लिए जगह, सीसी टीवी कैमरा का पैनल जितनी जगह की आवश्यकता होती हैं.

ऑफिस को 12*15 फीट स्थान में कवर किया जा सकता हैं.

जहाँ तक संभव हो सके, ऑफिस की दीवारों में कांच कि खिड़कियाँ बनी होनी चाहिए. ताकि चारों और नज़र रखी जा सके.

  • वर्कर्स क्वार्टर

500 मुर्गियों के फार्म के लिए कम से कम चार लेबर्स की आवश्यकता होती हैं. लेबर के लिए ड्रेसिंग रूम की आवश्यकता होती हैं, अगर लेबर नाईट वहीँ होल्ड करते हैं तो आपको उनके लिए bed भी लगवाने होते हैं. इसलिए एक छोटा घर जैसा रूम बनाना होता हैं.

चार लोगों के लिए एक मिनी घर के लिए 20*15 फीट का कमरा आप बना सकते हैं.

  • टॉयलेटरीज

इतने बड़े शेल्टर में आपको दो तीन लेट-बाथ जरूर बनानें चाहिए, ताकि व्यवस्था बनी रहे. इसको पूरे आर्म में जहाँ कभी जगह मिले बना लेना चाहिए. मेनेजर के लिए एक बाथरूम उसके ऑफिस से ही जोड़ सकते हैं.

  • जेनरेटर रूम

शेड में पंखा और लाइट्स को चलाने के लिए आपको जेनरेटर लगाना चाहिए. सबसे पहले आपको कोई ऐसा जेनरेटर लगाना चाहिए जो बहुत कम आवाज करता हो. दूसरी बात जेनरेटर फार्म के शेड से डोर स्थापित करना चाहिए. जेनरेटर को एक बंद कमरे में लगाये, ताकि उस पर पानी न लगे.

  • फूट वॉशर

जब कोई ट्रक या गाड़ी पोल्ट्री फार्म में आती हैं तो उसके टायरों को साफ़ करना बहुत आवश्यक होता हैं. क्योंकि उसके टायरों पर कई सारे संक्रामक बेक्टीरिया लगे होते हैं. कई सारे पोल्ट्री फार्म में एक ढाल लगा होता हैं, जिसमे पानी बहता रहता हैं और स्प्रे चलता रहता हैं. इस व्यवस्था को एंट्री गेट पर किया जाता हैं.

इस व्यवस्था से मुर्गियों की सेहत बनी रहती हैं, और आपको अच्छी fcr मिलती रहती है.

इसलिए, फार्मे-एलडीहाईड और फिनायल का स्प्रे किया जाता हैं.

मुर्गी फार्म शेड लिए आधुनिक नक्शा कैसे बनाये

अभी तक बाहर जितने भी कमरे और रूम थे उनकी बात कर ली हैं. अब हम जानते कि शेड को कैसे डिजाईन किया जाये. मुर्गी फार्म के लिए जाली किस तरह की लगानी चाहिए और दरवाजे लाइटिंग सब सिस्टम को किस तरह रखा जाना चाहिए. हम एक एक करके सबको जानते हैं.

  • दरवाजा

एक पोल्ट्री शेड में कई सारे दर्वजोमं को रखना चाहिए. दरवाजो को इस तरह से डिजाईन करवाए कि एक मुख्य गेट हो और सामान्य आने जाने के लिए दुसरे गेट भी मौजूद हो.

अगर हम दरवाजे के साइज़ की बात करें तो मुख्य दरवाजा बड़ा होना चाहिए, जिसकी ऊंचाई 6.5 फीट और चौड़ाई 3 फीट होनी चाहिए. आप इसको और भी बड़ा रख सकते हैं. बड़े गेट से बड़ी चीजों को आसानी से ले जाया जा सकता हैं. दुसरे गेट को आप 2.5 फीट की चौड़ाई पर रख सकते हैं.

एक गेट गोदाम की तरफ से खुलना चाहिए, जहाँ से दानों को अन्दर ले जाया जाता हैं. दूसरा, एक दरवाजा एक्सपोर्ट या वाहन के सामने लगा होना चाहिए. जहाँ से माल को लाया और ले जाया जाता हैं.

गेट हमेशा बाहर की तरफ खुलना चाहिए और गेट के नीचे ज्यादा जगह भी नहीं होनी चाहिए, जहाँ से कोई छोटा जानवर अन्दर प्रवेश कर सके.

  • जाली

अगर आप गर्म इलाकों में रहते हैं तो आपको दीवार कम से कम रखनी चाहिए. जाली एसी होनी चाहिए कि छोटा से छोटा किट भी अन्दर प्रवेश न कर पाए. जाली मजबूत और दृढ होनी चाहिए.

  • लाइटिंग

लाइटिंग का सीधा असर आपकी fcr पर पड़ता हैं, अगर लाइट को ठीक तरीके से नहीं लगाया जाए तो, मुर्गियां ठीक से खाना पीना नहीं कर पाएगी और उनकी सेहत कमजोर हो जाएगी. इसलिए लाइटिंग की व्यवस्था बढ़िया होनी चाहिए.

मुर्गी पालन के शेड में लाइटिंग के लिए ट्यूबलाइट का इस्तेमाल करना चाहिए. पूरे शेड में फर्श से सात फीट की ऊंचाई पर लाइटिंग की व्यवस्था कराई चाहिए. दो लाइट के बीच में 15 फीट से ज्यादा दुरी नहीं होनी चाहिए.

  • मुर्गियों के लिए फर्श

शेड का फर्श जमीन से ऊँचा होना चाहिए, ताकि बरसात का पानी अन्दर न लगे. मुर्गियों के नीचे के फर्श के लिए नीचे कम से कम डेढ़ फीट की कंक्रीट जरूर भरवाएं.

  • छत

छत को ऊंचाई पर बनाना चाहिए, और छत के पिलर या खम्भे मजबूत होने चाहिए. शेड के साइड के किनारों को आठ फीट की ऊंचाई पर रखे और बीच की छत को 12 फीट कि ऊंचाई पर रखे. एक बेहतर ढलान वाला शेड होना चाहिए. छ्त इतनी मजबूत होनी चाहिए कि आंधी तूफान से उसको कोई नुकसान न हो.

  • छत के ऊपर

गर्मोयों में छत के ऊपर पानी भरा जाता हैं, इसलिए आप ठीक तरीके से उस पर कुंडिया बनवाये. कुंडिया छोटी और लीकेज प्रूफ होनी चाहिए. ताकि ऊपर से कोई भी कचरा या पानी की बुँदे नीचे न आ पाए.

कुण्डियों के चावल या अनाज का भूसा भी भरा जाता हैं, तो कुंडिया में चावल के कचरे को भरकर उसको पाल से बाँधा जाता हैं. तो आप इस बात का विशेष ध्यान रखे कि छत पर बेल्डिंग के वक्त किसी भी प्रकार कि कोई नुकीली किल को ऊपर न रखे.

  • शेड की दीवार

अगर पोल्ट्री शेड 25*200 फीट का हैं तो कम पंखो की आवश्यकता होगी अन्यथा आपको दो तीन पंखे लगाने पड़ सकते हैं. पंखो को लगाना इसलिए जरूरी हैं क्योंकि मुर्गियों से अमोनिया और कार्बन डाई ऑक्साइड गैस निकलती रहती हैं.

पंखो को दीवार की तरफ लगाये और उस दीवार की तरफ लगाये जहाँ कोई भी कमरा नहीं हैं.

एक मिनी ड्रेसिंग रूम

मौसम के हिसाब से मुर्गियों को कोई न कोई बमारी हो ही जाती हैं. अगर आपने कोई ट्रेनिंग ले रखी हैं तो आप उनके इलाज के लिए एक ड्रेसिंग रूम बना सकते हैं, जहाँ उनका ट्रीटमेंट किया जा सके या उनको दूसरी मुर्गियों को एक तरफ रखा जा सके.

मुर्गी फार्म बनाने में कितना खर्चा आएगा

500 मुर्गियों के लिए एक आधुनिक मुर्गी फार्म बनाने के लिए कम से कम दस लाख का खर्चा आ सकता हैं.

आपने क्या सीखा “मुर्गी फार्म बनाने का नक्शा”

murgi farm banane ka naksha – यहाँ हमने आपको बताया कि 500 मुर्गियों के लिए एक बेहतर और तकनिकी युक्त शेड कैसे तैयार किया जाए. अगर आपको कोई सवाल का जवाब चाहिए हैं, या आप अपने अनुभव को यहाँ शेयर करना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं.

इसे भी पढ़े -: Networking Business Plan in Hindi – नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस प्लान

Leave a Comment

Your email address will not be published.