सरल पेंशन योजना क्या है? फायदे अनेक, बुढ़ापा होगा टेंशन फ्री

इस विशेष पोस्ट में आप जानेंगे कि, सरल पेंशन योजना क्या है? और इसके क्या फायदे है? यदि आप एक ऐसा निवेश करने की सोच रहे हैं जो, आपके सेवानिवृत्ति के बाद जीवन को सुरक्षा प्रदान करें. तो यहां आपके लिए एक बढ़िया विकल्प मौजूद है. हम बात करने वाले हैं, सरल पेंशन योजना के बारे(about Saral Pension Yojana) में. खास तौर पर सीनियर सिटीजन के लिए तथा सेवानिवृत्त हुए लोगों के लिए यह जानना बेहद जरूरी है. सरल पेंशन योजना एक ऐसी योजना हैं जो तुरंत चालू हो जाती हैं. मतलब आज पैसा भरो और अगले महीने से ही पेंशन चालू. यह योजना क्या हैं? कौन कौन इस योजना का हिस्सा बन सकता हैं. इस योजना के क्या क्या फायदे हैं. चलिए जानते हैं.

सरल पेंशन योजना क्या है?

एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इंश्योरेंस रेगुलेटरी एवं डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने सभी बीमा कंपनियों को नए दिशा निर्देश जारी किए हैं. जिसके अनुसार सभी बीमा कंपनियों को 1 अप्रैल 2021 से सरल पेंशन योजना शुरू करनी है. यह मानक व्यक्ति तत्काल वार्षिकी उत्पाद है. इस पेंशन योजना के तहत दो वार्षिकी विकल्प मौजूद है. यहां एकल जीवन वार्षिकी संयुक्त जीवन वार्षिकी उपभोक्ताओं को उपलब्ध होगी.

सरल पेंशन योजना क्या है

दिशानिर्देश जारी करते हुए, IRDAI ने कहा कि, सरल पेंशन योजना के लिए न्यूनतम वार्षिक राशि अंशदान प्रति माह 1,000 रुपये, प्रत्येक तीन महीने में 3,000 रुपये, हर छह महीने में 6,000 रुपये और एक वर्ष में 12,000 रुपये है. IRDAI ने कहा है कि, बुनियादी सुविधाओं और सेट प्रोटोकॉल के साथ व्यक्तिगत तत्काल वार्षिकी शुरू करना महत्वपूर्ण है. सरल पेंशन पॉलिसी को शुरू होने की तारीख से छह महीने बाद, कभी भी सरेंडर किया जा सकता है. विशेषज्ञों की राय है कि, IRDAI की इस पहल से उपभोक्ताओं के लिए बीमा योजनाओं का चयन करना आसान हो जाएगा.

वार्षिकी (annuity) क्या है?

आपकी सामान्य जानकारी के लिए बता दे कि वह वार्षिक राशि जिस पर बीमा कंपनी उपभोक्ता द्वारा जमा की जाने वाली राशि के विरुद्ध गारंटी देती है उसे वार्षिकी (एनयूटी) कहते हैं. यह वार्षिकी, निवेशकों को उनकी दैनिक आवश्यकताओं के लिए सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन योजना के अनुसार दी जाती है. वार्षिकी में निवेश तब तक कर- मुक्त हो जाता है. जब तक कि आप उन्हें वापस नहीं ले लेते है या आय के रूप में लिया जाता है. यह आमतौर पर सेवानिवृत्ति के दौरान होता है.

सरल पेंशन योजना के क्या क्या फायदे है ?

IRDAI के निर्देशों के अनुसार 1 अप्रैल 2021 से सरल पेंशन योजना शुरू होने जा रही है. इस योजना का उद्देश्य है कि, बीमा कंपनियों द्वारा किए जाने वाले फर्जीवाड़ा, धोखाधड़ी को रोकना. और बीमा पॉलिसी से जुड़ी सुविधाओं को सरल बनाना. आमतौर पर यह होता है कि, कई बीमा कंपनियां पेंशन योजनाओं को अलग-अलग नामों से बेचती है और उसमें फायदे के दावे भी करती है. इस कारण ग्राहक को अच्छी योजना का चयन करने में कठिनाई होती है. तथा कई बार ग्राहक ठगी का शिकार हो जाता है. एक्सपर्ट्स की माने तो, इस योजना से उपभोक्ताओं के लिए बीमा योजनाओं का चयन करना बेहद सरल हो जाएगा.

सरल पेंशन योजना गैर सरकारी कर्मचारियों के लिए वरदान साबित होगी. खासतौर पर सीनियर सिटीजंस जिनका रिटायरमेंट हो चुका है या होने वाला है. उनके लिए यह योजना काफी लाभदायक होगी. IRDAI ने बताया कि, जितना पैसा एक साधारण पेंशन योजना में लगाते हैं उतना धन मिलेगा. इसके अलावा एनयूटी (वार्षिकी) का लाभ भी मिलता रहेगा. यह योजना खरीद मूल्य के 100% रिटर्न के साथ life annuity का आश्वासन देती है.

इस योजना के तहत ग्राहक को अपने जीवन काल तक वार्षिकी का लाभ मिलता रहेगा. इसका बड़ा फायदा यह भी है कि, इस पॉलिसी धारकों की मृत्यु होने पर, इसका लाभ पति/ पत्नी हस्तांतरित किया जा सकता है. यदि बीमा धारक की मृत्यु हो जाती है तो, उसके जीवनसाथी को उसकी मृत्यु तक वार्षिकी मिलती रहेगी. इसके बाद पति या पत्नी की मृत्यु होने पर, कानूनी वारिस को कराई गयी खरीद मूल्य का 100% return वापस मिल जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, ( IRDAI – INSURANCE REGULATORY AND DEVELOPMENT AUTHORITY OF INDIA ) एक सरकारी संस्था है. जिसके अंडर में सभी बीमा कंपनियां काम करती हैं.

योजना के लिए मुख्य बिंदु (scheme features for Saral Pension Yojana 2021)

यह योजना Insurance Regulatory and Development Authority of India द्वारा आयोजित हैं.
इउस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी की उम्र कम से कम 40 और अधिक से अधिक 80 तक हो सकती हैं.
यह योजना तुरंत प्रभाव से चालू हो जाती हैं. इस योजना में केवल एक बार ही प्रीमियम भरना होता हैं. एक बार प्रीमियम भरने के बाद किसी तरह से दूसरी भागीदारी लेने की जरुरत नहीं हैं.

यह योजना त्रि-मासिक, अर्द्ध वार्षिकी, बारह मास के लिए अलग अलग जिसमे तीन महीनो के लिए 3000, अर्द्ध वार्षिक के लिए 6000, और पूरे वार्षिकी प्लान के लिए 12000 का प्रीमियम देना होता हैं.
इस पालिसी का धारक कोई भी पुरुष, महिला और ट्रांसजेंडर हो सकता हैं.
इस पालिसी की विशेषता यह हैं की पालिसी का प्रीमियम भरते ही आपकी पेंशन शुरू हो जाएगी. पेंशन को लेने के तीन विकल्प हैं, आपको चुनने का अधिकार हैं कि आप कितने महीनो पर पेंशन चाहते हैं.

अप्रैल फूल दिवस की कुछ जानकारी और उदाहरन

जॉइंट पेंशन का आप्शन

इस योजना के तहत पति पत्नी दोनों में से कोई भी जब तक जीवित रहेगा तब तक पेंशन मिलती रहेगी. किसी एक के मरने के बाद दुसरे को आजीवन पेंशन मिलती रहेगी. दोनों के गुजर जाने पर नॉमिनी को शेष राशी मिल जाएगी. यह ध्यान रखे की इसमें टैक्स की वापसी नहीं होती हैं.

लोन का भी आप्शन हैं

अगर कोई अपनी पेंशन के दरमियान लोन लेना चाहता हैं तो धारक छ महीनो बाद लोन ले सकता हैं. कुछ मामलों में पालिसी धारक के पास पेंशन को सरेंडर करने का आप्शन भी रहेगा. इसमें धारक की पेंशन को रोक दिया जाता हैं और 95 फीसदी पैसा वापस मिल जाता हैं.

क्या मुझे इस सरल पेंशन योजना(saral pension yojna) में भाग लेना चाहिए?

SBI Life Saral Pension योजना एक बहुत ही अच्छी और जरूरतों को पूरा करने वाली हैं. सरल पेंशन योजना किसी के भी वितीय जरूरतों का ध्यान रखती हैं. इस प्लान में 100 प्रतिशत पैसा वापस मिल जाता हैं. निश्चित ही आपको अपने वर्षों के मन को शांति मिलेगी. रिटायर लोगो के लिए बहुत ही शानदार विकल्प हो सकता हैं.

इस पोस्ट में आपने जाना कि, सरल पेंशन योजना क्या है? वार्षिकी क्या है और यह कब से लागू होने जा रही है? आशा करते हैं कि, यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी आप हमारी दूसरी पोस्ट भी पढ़ सकते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published.