नेट बैंकिंग – इंटरनेट बैंकिंग क्या है?  इंटरनेट बैंकिंग के फायदे और नुकसान

Internet Banking kya hai hindi नेट बैंकिंग ऑनलाइन बैंकिंग क्या है इंटरनेट बैंकिंग के फायदे.

इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि इन्टरनेट या ऑनलाइन बैंकिंग क्या(internet banking kya hai hindi) हैं? इंटरनेट बैंकिंग की विशेषताएं, ऑनलाइन बैंकिंग के फायदे और नुकसान के आवश्यक बिंदुओं पर चर्चा करेंगे.

इंटरनेट बैंकिंग क्या है

इंटरनेट बैंकिंग को ऑनलाइन बैंकिंग, नेट बैंकिंग या ई-बैंकिंग के नाम से भी जाना जाता हैं. इंटरनेट बैंकिंग एक ऑनलाइन मिलने वाली सुविधा हैं, जो कि ग्राहक को बैंक या किसी वित्तीय संस्थान(financial institute) द्वारा प्राप्त होती हैं.

इंटरनेट बैंकिंग से बैंकिंग की उन तमाम सुविधाओं का लाभ लिया जा सकता हैं, जिसके लिए ग्राहक को बैंक जाना पड़ता हैं.

अत: इन्टरनेट बैंक के इस्तेमाल से अब हमको लम्बे समय तक बैंक की लाइन में खड़े रहने की जरुरत नहीं हैं न ही बैंक जाने की जरुरत हैं.

एक बात का ध्यान होना चाहिए कि सभी ग्राहक को इन्टरनेट बैंकिंग की सुविधा नहीं मिलती हैं. जब कोई कस्टमर किसी बैंक में नया खता खुलवाता हैं, तो उसको सीधे ही नेट बैंकिंग की सुविधा नहीं मिलती हैं.

नेट बैंकिंग की सुविधा का लाभ लेने के लिए आपको अपने ब्रांच से या फिर घर से ऑनलाइन नेट बैंकिंग के लिए आवेदन करना होगा.

आपको भी नेट बैंकिंग की सुविधा का लाभ लेना हैं लेकिन आपने अभी तक इसको एक्टिवेट नहीं किया हैं तो डोंट घबराओ, आप घर से इंटरनेट बैंकिंग को एक्टिवेट कर सकते हैं. मैं आगे कुछ बैंकों के रजिस्ट्रेशन के बारें में भी बताऊंगा.

नेट बैंकिंग की विशेषताएं(Features of Online Banking)

नेट बैंकिंग काफी लोकप्रिय सिस्टम हैं, जिसके चलते नेट बैंकिंग की कुछ विशेषताएं हैं जो आपके ध्यान में होनी चाहिए. ताकि भविष्य में जब कभी आप नेट बैंकिंग की को शुरू करे तो आपको इन बातों का ध्यान रहे.

छोटी से छोटी सुविधा का लाभ नेट बैंकिंग से तुरंत और सरल तरीके से उठाया जा सकता हैं. बैंक में होने वाली तमाम क्रियाओं को ऑनलाइन नेट बैंकिंग के जरिये दोहराया जा सकता हैं.

ग्राहक किसी भी समय अपना बैलेंस और ट्रांजेक्शन हिस्ट्री आसानी से चेक कर सकते हैं. अब इसके लिए आपको बैंक जाने की जरुरत नहीं है.

प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज, टीवी के लिए रिचार्ज तो आप नेट बैंकिंग के जरिये तुरंत कर सकते हैं.

बैंक की लाइन में लगने के अलावा बिल भुगतान और फण्ड ट्रान्सफर के लिए भी कभी लाइन में लगना पड़ सकता हैं. लेकिन नेट बैंकिंग से किसी भी बिल का भुगतान तुरंत कुछ मिनटों में किया जा सकता हैं.

प्रत्येक ग्राहक के पास खुद की एक आईडी और एक पासवर्ड होता हैं. इसको अधिक सुरक्षित करने के लिए हर लोग-इन पर एक OTP से सत्यापित किया जाता हैं.   

बैंकिंग के अलावा दूसरी सुविधाएँ जैसे – लोन के लिए आवेदन, बीमा के लिए आवेदन भी नेट बैंकिंग एप्लीकेशन या वेब द्वारा किया जा सकता हैं.

कभी कभी बैंकिंग की कुछ अतिरिक्त सुविधाओं के लिए हमको बैंक में जाकर एप्लीकेशन भरने पड़ते हैं, घंटो लाइन में खड़ा रहना पड़ता हैं. जैसे – डेबिट/क्रेडिट कार्ड को अपग्रेड करने के लिए, डेबिट/क्रेडिट को ब्लॉक करने के लिए, पासबुक या चेक बुक को इशू करवाने के लिए.   

तो, नेट बैंकिंग से आपको यह फायदा मिलेगा कि आप घर से ही आराम से ये सारे काम नेट बैंकिंग एप्प के जरिये कर सकते हैं. 

नेट बैंकिंग के जरिये कस्टमर अपने एड्रेस को भी बदल सकते हैं.

नेट बैंकिंग के फायदे(benefits of net banking)

नेट बैंकिंग एक हमेशा और 24 घंटे चलाने वाली सुविधा हैं. आप जब चाहे अपने मोबाइल या डेस्कटॉप से नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं.

जब चाहे आप अपने अकाउंट से पैसे अन्य अकाउंट में ट्रान्सफर कर सकते हैं. या अपने खाते की हिस्ट्री चेक कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग एक सरल प्रक्रिया हैं. नेट बैंकिंग का उद्देश्य ही काम को सरल बनाना हैं.

अपने बिजनेस या काम को छोड़कर बैंक ब्रांच की लाइन में खड़े रहने की जरुरत नहीं हैं. आप कोई भी लेनदेन हो चाहे कोई किश्त भरनी हो या किसी बिल का भुगतान करना हो. आप अपने समय के अनुसार कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग से समय की बचत होती हैं, नेट बैंकिंग के जरिये कोई भी लेनदेन आप मिनटों में पूरा कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग के जरिये कुछ ही मिनटों में आप एक fixed deposit account स्टार्ट कर सकते हैं.

बैंक ब्रांच से कोई लेनदेन होने पर हमको के रशीद मिलती हैं. हो सकता हैं कि वह हमसे कभी खो जाए. लेकिन नेट बैंकिंग एक डिजिटल सुविधा हैं जहाँ से कोई भी डेटा आपको हर वक्त हाजिर मिलेगा.

इंटरनेट या ऑनलाइन बैंकिंग के नुकसान

हमेशा फायदे और नुकसान के दोनों पहलुओं को ध्यान में रखना चाहिए. नेट बैंकिंग के अनेक फायदों के बाद भी कुछ नुकसान देखने को मिलते हैं.

नेट बेकिंग के सञ्चालन के लिए इंटरनेट की आवश्यकता होती हैं, बिना इन्टरनेट आप नेट बैंकिंग का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. इतना हो नहीं अगर बैंक का सर्वर डाउन हैं तो नेट बैंकिंग बाधित हो जाती हैं, इस स्थिति में आप किसी भी सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

इन्टरनेट पर लेन देन में बैंक कितनी भी सुरक्षा क्यों न दे, लेकिन हैकर तब भी अटैक कर सकते हैं. नेट बैंकिंग के जरिये हम हमारी सारी पर्सनल जानकारी इन्टरनेट पर शेयर करते हैं, जो किसी भी बड़े जोखिम से कम नहीं हैं. डेटा ही सब कुछ हैं, अगर वही लीक हो गया तो हमारा अकाउंट खतरे में आ जायेगा.  

इन्टरनेट बैंकिंग भले ही सभी सुविधाओं से लेस हो लेकिन हर कोई इसका इस्तेमाल करना नहीं जानता हैं. कुछ लोग जो तकनिकी चीजों से अपरिचित हैं, उनके लिए यह एक बिलकुल नया सौदा हैं. शुरुआत में इसको समझना थोड़ा कठिन हैं.

सुरक्षित इन्टरनेट बैंकिंग का खेल पासवर्ड पर टिका हैं. अगर पासवर्ड किसी के सामने खुल जाए या लीक हो जाए तो धोखाधड़ी हो सकती हैं.

क्या नेट बैंकिंग से पता बदल सकते हैं?

नेट बैंकिंग के जरिये आप अपना प्राथमिक और द्वितियिक पता बदल सकते हैं.

क्या नेट बैंकिंग से बैंक स्टेटमेंट देखा जा सकता हैं?

नेट बैंकिंग से आप अपने खाते की सारी जानकारी देख सकते हैं, और उसको डाउनलोड भी कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग से कितना भुगतान किया जा सकता हैं?

नेट बैंकिंग से NEFT और RTGS से भुगतान किया जाता हैं, फुल ट्रांजेक्शन एक्टिवेशन में आप चाहे उतना भुगतान कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग शुरू करने के लिए किन डॉक्यूमेंटस की आवश्यकता होती हैं?

नेट बैंकिंग शुरू करने के लिए एक बैंक अकाउंट की जरुरत होती हैं.

क्या नेट बैंकिंग को ऑनलाइन शुरू किया जा सकता हैं?

इन्टरनेट या नेट बैंकिंग को ऑनलाइन शुरू किया जा सकता हैं.

क्या नेट बैंकिंग से बिल का भुगतान किया जा सकता है?

हाँ! नेट बैंकिंग से बिल का भुगतान किया जा सकता हैं.

घर से नेट बैंकिंग कैसे चालू करे?

नेट बैंकिंग को घर से ही शुरू करने के लिए एटीएम कार्ड होना चाहिए, अन्यथा आप घर से नेट बैंकिंग एक्टिवेट नहीं कर पायेंगे.

क्या नेट बैंकिंग से मैं चेक बुक जारी करवा सकता हैं?

हाँ! नेट बैंकिंग से चेक बुक और पासबुक को इशू करवाया जा सकता हैं.

क्या नेट बैंकिंग GST से सम्बंधित कोई सुविधा देता हैं?

हाँ! नेट बैंकिंग में GSTIN नंबर भरकर GST रिटर्न किया जा सकता हैं.

क्या नेट बैंकिंग में पैसे ट्रान्सफर पर कोई चार्ज लगता हैं?

दस लाख से ऊपर पैसे ट्रान्सफर करने पर बैंक की तरफ से एक छोटा सा सिक्यूरिटी चार्ज लगाया जाता है.

क्या नेट बैंकिंग से क्रेडिट कार्ड के पेमेंट्स की स्टेट्स को देखा जा सकता हैं?

हाँ! क्रेडिट कार्ड के आगामी भुगतान का शुल्क, आगामी भुगतान की तारिख और पिछले डेटा को भी चेक कर सकते हैं.

नेट बैंकिंग का रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

नेट बैंकिंग को आप बैंक की शाखा में जाकर या ऑनलाइन दोनों में से किसी एक माध्यम से चालू कर सकते हैं.

एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने का तरीका, मनी ट्रांसफर एप्प

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के फायदे – India Post Payment Bank Benefits in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.