Skip to content

End To End Encrypted meaning in hindi एंड टू एंड एनक्रिप्शन का मतलब

end-to-end-encrypted-meaning-in-hindi

Jump On Query -:

What is End to end encrypted meaning in hindi

End to end encrypted meaning in hindi – दोस्तों आज के समय में हम लोग कई सारे सोशल मिडिया एप्लीकेशन चलाने लगे है. जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक, instagram, ट्विटर etc. प्ले स्टोर पर इनके डाउनलोडस देख कर ही पता लगाया जा सकता है कि, इसे दुनिया भर में कितने यूजर्स है. यहाँ रोजाना करोडो में चैट, मेसेजेज कॉल्स की जाती है. ऐसे में इन कम्पनियों को आपकी चैट, कॉल्स को सिक्योर करना होता है. व्हाट्सएप में इसी सिक्योरिटी को एंड टू एंड एनक्रिप्शन कहते है. चलिए विस्तार से जानते है – End to end encrypted meaning in hindi, encription ka matlab kya hota hai, व्हाट्सएप में एंड टू एंड एनक्रिप्शन का फीचर कैसे हमारी चैट या कॉल को सुरक्षित रखता है.

इस आर्टिकल में क्या है (end to end encrypted meaning in hindi)

  • एनक्रिप्शन मीनिंग इन हिंदी व्हाट्सएप्प
  • एंड टू एंड एनक्रिप्शन का मतलब क्या होता है?
  • hindi meaning of encryption (एनक्रिप्शन का हिंदी अर्थ)
  • व्हाट्सएप्प सेक्योरिटी इन हिंदी
  • एनक्रिप्शन की क्या है
  • कैसे सुरक्षित रखता है एंड टू एंड एनक्रिप्शन हमारी चैट और कॉल को

एनक्रिप्शन मीनिंग इन हिंदी व्हाट्सएप्प

आपने अपने व्हाट्सएप्प चैट बॉक्स पर “messege and calls are end to end encrypted” लिखा हुआ पढ़ा होगा. यह क्यों लिखा होता है और यह क्या काम करता है. व्हाट्सएप्प में एंड टू एंड एनक्रिप्शन एक सेक्योरिटी पेनल/ फीचर होता है. यह आपके चैट और कॉल्स को पूरी तरह से सेक्योर बनाता है. देखा जाए तो एनक्रिप्शन का हिंदी अर्थ “गोपनीयता” होता है. जबकि इसका डिजिटल अर्थ भी कुछ इस तरह ही है. यह आपके चैट, कॉल्स, विडियो कॉल्स को हेक करने से बचाता है. यह आपकी व्हाट्सएप्प की चैट/ कॉल्स की गोपनीयता बनाए रखता है.

एंड टू एंड एनक्रिप्शन का मतलब क्या होता है

व्हाट्सएप्प का एंड टू एंड फीचर आने के बाद लोगो का इसके प्रति विश्वास और बढ़ गया. व्हाट्सएप्प में एंड टू एंड एनक्रिप्शन चैट, कॉल्स को हेक करने से बचाता है. व्हाट्सएप्प का एंड टू एंड फीचर कैसे काम करता है. व्हाट्सएप्प का यह फीचर, मेसेज भेजने वाले और पाने वाले के बीच होने वाली चैट/ कॉल्स को गोपनीय बनाए रखता है. एंड टू एंड एन्क्रिप्टेड के जरिए भेजा गया मेसेज सेंडर और रिसीवर के अलावा कोई थर्ड पर्सन नही पढ़ सकता. इस प्रकार के मेसेज को कोई हैक नही कर सकता है.

End to end encrypted

अब समझते है कि, End to end encrypted कैसे काम करता है. एंड टू एंड एनक्रिप्शन के जरिए, सेंडर द्वारा भेजा गया मेसेज एक सीक्रेट कोड बन जाता है. जब वह रिसीवर के पास जाता है तब वह नॉर्मल मेसेज बन जाता है. इस तरह केवल भेजने वाला और पाने वाला ही इस मेसेजेज को पढ़ सकता है. इन दोनों के बीच में कोई थर्ड पर्सन या हैकर सीक्रेट कोड को न तो डिकोड कर सकते है और न ही उसे पढ़ सकते है. फिचर इमेज के जरिए आप और भी आसानी से end to end encrypted का मतलब समझ सकते है.

whatsapp-end-to-end-encrypted

Encryption key क्या है

एनक्रिप्शन की क्या है? एनक्रिप्शन की कितने प्रकार की होती है? यह एक तरह की सेक्योरिटी key है. एनक्रिप्शन key, किसी डाटा या फाइल को एनक्रिप्ट और डिक्रिप्ट करने के काम आती है. इसकी एल्गोरिथम को इस तरह बनाया गया है कि, सभी के पास अपनी एक अलग key होती है. जो किसी दुसरे, तीसरे यूजर के पास नही होती.

एनक्रिप्शन key दो प्रकार की होती है. एक Public key और दूसरी Privet key. पब्लिक की (key) सभी यूजर्स के पास होती है. और privet key सभी यूजर्स की अलग अलग होती है. जब सेंडर किसी रिसीवर को मेसेज भेजता है. तो वह उसकी privet key से लॉक होता है. जब यह मेसेज रिसीवर के पास जाता है तो वह उसकी privet key से उसे ओपन कर सकता है. और केवल वह ही उसे पढ़ सकता है.

Privet key (symmetric encryption meaning in hindi)

सिमेट्रिक एनक्रिप्शन में एक ही key होती है. उसे Privet key कहते है. इस key की मदद से किसी डाटा को एनक्रिप्ट और डिक्रिप्ट दोनों कर सकते है. सेंडर को इस key को हर उस व्यक्ति को देना होता है. जिसे वह मेसेज सेंड करना है. ताकि रिसीवर भेजे गए मेसेज को पढ़ सके. इस कारण इसे शेयर्ड एनक्रिप्शन भी कहा जाता है.

Public key (Asymmetric encryption meaning in hindi)

असिमेट्रिक एनक्रिप्शन में या पब्लिक key में दो प्रकार की keys होती है. एक key की मदद से डाटा एनक्रिप्ट होता है जबकि दूसरी key से डाटा डिक्रिप्ट होता है. इसमें सेंडर एक key अपने पास रखता है जबकि दूसरी key को पब्लिक करनी पड़ती है. तो ऐसे में डिक्रिप्ट करने वाली की key को रिसीवर के साथ शेयर करनी होती है.

End to end encrypted के फायदे

आज के इस डिजिटल युग में सबसे महत्वपूर्ण चीज क्या है. वह है यूजर का डाटा. यदि किसी के पास करोडो लोगो का डाटा आ जाए तो वह इसका किस तरह यूज करेगा. यह तो वही जानता है. वह इसका इस्तेमाल फ्रॉड या स्कैम करने में कर सकता है. किसी भी कम्पनी के लिए यूजर का डाटा बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. इसलिए उसकी पूरी जिम्मेदारी होती है कि, वह अपने यूजर के डाटा को सुरक्षित रखे. इसी वजह से इस डिजिटल दुनिया में एनक्रिप्शन (encryption) की जरुरत पड़ी. End to end encrypted के कई फायदे है जैसे यह यूजर के डाटा को सुरक्षित रखते है, डाटा की गोपनीयता बनाए रखते है.

  1. Encryption के जरिए किसी भी यूजर के डाटा या जानकारी को सुरक्षित कही पर शेयर कर सकते है.
  2. यह डाटा को करप्ट होने से और फिशिंग अटैक, से बचाता है.
  3. यूजर के डाटा जैसे मेसेजेज, कॉल्स की गोपनीयता बनाए रखता है.
  4. किसी भी डाटा की औथेन्तिसिटी बनाए रखता है.

एनक्रिप्शन के कुछ हानि

एनक्रिप्शन की मुख्य कमी यह है कि, इसमें डाटा या जानकारी को एंड टू एंड यानी सेंडर और रिसीवर ही देख सकते है. ऐसे में कोई इसका गलत इस्तेमाल भी कर सकता है. कोई आतंकवादी या खुफिया जानकारी भेजे तो इसे न तो सरकार पढ़ सकती है और न ही वह कम्पनी पढ़ सकती है.

दूसरा यह कि, डाटा को इनक्रिप्ट करने के बाद, यदि डिक्रिप्ट वाली key खो जाए या सिस्टम में छोटी खराबी आ जाए. तो उसे बिना डिक्रिप्ट key के बिना उसे पढना असंभव है.

एनक्रिप्शन के कुछ अन्य उदहरण

यहाँ हमने एंड टू एंड एनक्रिप्शन (E2EE) के बारे में जाना. लेकिन इसके अलावा भी कुछ एनक्रिप्शन के उदहरण है. जैसे Field level encryption और नेटवर्क लेवल एनक्रिप्शन.

फील्ड लेवल एनक्रिप्शन का इस्तेमाल किसी विशेष फिल्ड को इनक्रिप्ट करने के लिए किया जाता है. जैसे आप कही पर पासवर्ड लिखते है और एंटर करते है. उसके बाद वे पासवर्ड एक विशेष कोड में बदल जाते है. जिससे उसे आपके अलावा कोई पढ़ नही पाता.

नेटवर्क लेवल एनक्रिप्शन का इस्तेमाल एक निश्चित नेटवर्क में होता है. जैसे कि कोई खुफिया एजेंसी या सरकारी एजेंसी के लोग. इसे इस प्रकार इनक्रिप्ट किया जाता है कि, एक निश्चित नेटवर्क के लोगो द्वारा ही इसे पढ़ा जा सकता है.

व्हाट्सएप्प बिजनेस में अकाउंट कैसे बनाए

ऑनलाइन पैसे कमाए

बिजनेस रजिस्ट्रेशन कैसे करे

इस आर्टिकल में आपने end to end encrypted meaning in hindi, एनक्रिप्शन का हिंदी अर्थ, व्हाट्सएप्प सेक्योरिटी एंड टू एंड एनक्रिप्शन के बारे में जाना. आशा करते है यह आर्टिकल आपको जानकारी भरा लगा होगा. इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.